आप का स्वागत है | साइन इन       19 जुलाई, 2018     भाषा: English | हिंदी
फ़ॉन्ट का आकार : | अ- | अ+
   
New Document प्रवेश परिणाम 2018-19 Notification/Schedule for Civil Services Examination (Preliminary-cum-Main), 2019 For Minorities, SCs, STs and Women

 
कुलपति का सन्देश


 प्रो तलत अहमद,
  कुलपति

जामिया मिल्लिया इस्लामिया उर्दू भाषा से लिया गया नाम है,जिसमें जामिया का अर्थ है 'विश्वविद्यालय' और मिल्लिया का अर्थ है 'राष्ट्रीय'| भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन और देशभक्ति के उत्साह से अस्तित्व में आया यह विश्वविद्यालय,1920 में महात्मा गांधी के आह्वान पर,सरकार समर्थित संस्थाओं का बहिष्कार करने के लिए स्थापित हुआ|

वर्तमान में जामिया में 9 संकाय, 39 विभाग और 33 अनुसंधान केंद्र हैं जिनमें लगभग 18000 छात्र हैं। विश्वविद्यालय को नर्सरी शिक्षा से लेकर डॉक्टरेट स्तर तक के शिक्षा क्षेत्र में गौरव प्राप्त है।

जामिया की कहानी इसके संस्थापकों की प्रतिबद्धता और बलिदान की कहानी है जिसने अपने स्थापना के समय से वर्तमान तक इस संस्था से जुड़े शिक्षकों को प्रतिबद्धता और ईमानदारी के लिए प्रेरित किया है।

विश्वविद्यालय 2020 में अपने 100 वर्ष पूरे करके महत्वपूर्ण मील के पत्थर से कुछ ही दूर है। पिछले 93 वर्षो में  विश्वविद्यालय अपनी अद्वितीय राष्ट्रवादी और प्रगतिशील प्रकृति के साथ, नि:स्वार्थ भाव से समाज के वंचित तबकों के हजारों युवाओं को औपचारिक शिक्षा के दायरे में लाकर देश सेवा कर रहा है। नई पीढ़ी के शिक्षार्थी जो कि अपनी नियति परिवर्तन करके अपने परिवार और समाज की नियति बदलने की इच्छा से विश्वविद्यालय में बड़ी संख्या में प्रवेश लेते हैं| जामिया मिल्लिया इस्लामिया ने इस नई पीढ़ी के शिक्षार्थियो को निराश नहीं होने दिया| हमारे शिक्षक उन्हें शिक्षित करके देश के आत्मविश्वास से परिपूर्ण, अच्छे नागरिक बनाने की अपनी अतिरिक्त जिम्मेदारी को भी समझते हैं|

विश्वविद्यालय 21 वीं सदी में शिक्षा के वैश्विक परिवर्तनों के साथ तालमेल बनाए रखने में अग्रसर है। बड़ी संख्या में विदेशी विश्वविद्यालयों ने अनुसंधान, विद्यार्थी और संकाय विनिमय, सम्मेलनों और सेमिनारों के लिए जामिया मिल्लिया इस्लामिया के साथ सहयोग करने में गहरी रुचि दिखाई है। जामिया मिल्लिया इस्लामिया के शिक्षकों, छात्रों और स्टाफ के सदस्यों के बीच भागीदारी का प्रसार जारी है। हमें अनुसंधान और शैक्षिक प्रगति में उत्कृष्टता के प्रयास की अपनी प्रतिबद्धता पर मौलिक रूप से विचार करने की जरूरत है। वह सभी जो अतीत में जामिया के साथ जुड़े रहे, और वह जो वर्तमान में जामिया से जुड़े हुए हैं, उन सभी को  मेरी शुभकामनाएं।

CV of Prof. Talat Ahmad